EMAIL

Call Now

ब्लॉग

बालीवुड सुपर स्टार ने तीन बार  जीता  फिल्म फेयर
29-Dec-2018    |    Views : 000198

LUCKNOW. राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसम्बर 1942 को हुआ था, वह भारतीय बॉलीवुड अभिनेता, निर्देशक व निर्माता थे। उन्होंने कई हिन्दी फ़िल्में बनायीं और राजनीति में भी प्रवेश किया। वे नई दिल्ली लोक सभा सीट से पाँच वर्ष 1991-96 तक कांग्रेस पार्टी के सांसद रहे। बाद में उन्होंने राजनीति से सन्यास ले लिया।

बालीवुड सुपर स्टार ने तीन बार जीता फिल्म फेयर


LUCKNOW. राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसम्बर 1942 को हुआ था, वह भारतीय बॉलीवुड अभिनेता, निर्देशक व निर्माता थे। उन्होंने कई हिन्दी फ़िल्में बनायीं और राजनीति में भी प्रवेश किया। वे नई दिल्ली लोक सभा सीट से पाँच वर्ष 1991-96 तक कांग्रेस पार्टी के सांसद रहे। बाद में उन्होंने राजनीति से सन्यास ले लिया।

राजेश खन्ना ने कुल 180 फ़िल्मों और 163 फीचर फ़िल्मों में काम किया, 128 फ़िल्मों में मुख्य भूमिका निभायी, 22 में दोहरी भूमिका के अतिरिक्त 17 छोटी फ़िल्मों में भी काम किया। उन्होने तीन साल 1969-71 के अंदर 15  हिट फ़िल्मों में अभिनय करके बॉलीवुड का सुपरस्टार कहे जाने लगे। उन्हें फ़िल्मों में सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिये तीन बार फिल्म फेयर पुरस्कार मिला और 14 बार मनोनीत किया गया। बंगाल फ़िल्म जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा हिन्दी फ़िल्मों के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार भी अधिकतम चार बार उनके ही नाम रहा और 25 बार मनोनीत किया गया। 2005 में उन्हें फ़िल्मफेयर का लाइफटाइम अचीवमेण्ट अवार्ड दिया गया। राजेश खन्ना हिन्दी सिनेमा के पहले सुपर स्टार थे। 1966 में उन्होंने आखिरी खत नामक फ़िल्म से अपने अभिनय की शुरुआत की। राज़, बहारों के सपने, आखिरी खत - उनकी लगातार तीन कामयाब फ़िल्में रहीं और बहारों के सपने पूर्णतः असफल हुई। उन्होंने 1966-1991 में 74 स्वर्ण जयंती फ़िल्में की। उन्होंने 1966-1991 में 22 रजत जयंती फ़िल्में किया। उन्होंने 1966-1996 में 9 सामान्य हित्त फ़िल्म किया। उन्होंने 1966-2013 में 163 फ़िल्म किया और 105 हिट रहे।

इतिहास में 29 दिसंबर यानि आज के इतिहास में कई महत्वपूर्ण घटनायें दर्ज है, आज हम उन्ही महत्वपूर्ण घटनाओं पर नजर डालेंगे।

29 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

मुग़ल शासक बाबर का बेटा हुमायूं 1530 में उसका उत्तराधिकारी बना।

ब्रिटेन की सेना ने 1778 में अमेरिकी राज्य जॉर्जिया पर कब्जा किया।

कप्तान विलियम Bainbridge के आदेश के तहत 1812 में यूएसएस संविधान, एक तीन घंटे की लड़ाई के बाद ब्राजील के तट पर एचएमएस जावा कब्जा।

टेक्सास 1845 में अमेरिका का 28वां राज्य बना।

सन 1851 में पहली अमेरिकी वायएमसीए बोस्टन, मैसाचुसेट्स में खुलता है।

सन 1860 ने पहले ब्रिटिश समुद्री लोहा पहने युद्धपोत, एचएमएस योद्धा शुरू की है।

सुन यात सेन को 1911 में नए चीन गणतंत्र का राष्ट्रपति घोषित किया गया।

मंगोलिया 1911 में किंग वंश के शासन से आजाद हुआ।

नीदरलैंड ने 1922 में संविधान अंगीकार किया।

समेकित B-24 की 1939 में पहली उड़ान।

यूरोपीय देश हंगरी में 1949 में उद्योगों का राष्ट्रीयकरण किया गया।

लिस्बन में 1959 में मेट्रो संचालन शुरू होता है।

कलकत्ता मे 1972 में मेट्रो रेल का काम शुरू हुआ।

ब्रिटेन में 1975 में महिलाओं और पुरुषों के समान अधिकारों से जुड़ा क़ानून लागू।

विश्व का सबसे बड़ा ओपन एयर थियेटर 1977 में ‘ड्राइव’ बंबई (अब मुम्बई) में खुला।

स्पेन में 1978 में संविधान प्रभाव में आया।

भारतीय क्रिकेटर सुनील गावास्कर ने 1983 में टेस्ट क्रिकेट में अधिकतम 236 रन वेस्टइंडीज के खिलाफ बनाये।

कांग्रेस ने 1984 में स्वतंत्र भारत के इतिहास में सबसे भारी बहुमत से संसदीय चुनाव जीता था। इस चुनाव में 28 सीटें जीतकर तेलुगु देश में सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी के तौर पर उभरी।

श्रीलंका ने 1985 में 43,000 भारतीयों को नागरिकता प्रदान की।

ऑस्ट्रेलिया में 1988 में विक्टोरियाई पोस्ट ऑफिस संग्रहालय बंद हुआ।

वाक्लाव हाबेल 1948 के बाद 1989 में पहली बार चेकोस्लोवाकिया के ग़ैर-साम्यवादी राष्ट्रपति चुने गये।

दंगों तोड़ आउट के बाद 1989 में हांगकांग को जबरन वियतनामी शरणार्थियों प्रत्यावर्तित का फैसला किया।

ग्वाटेमाला और ग्वाटेमेले राष्ट्रीय क्रांतिकारी संघ के नेताओं ने 1996 में 36 साल के गृह युद्ध समाप्त होने के समझौते पर हस्ताक्षर.

नाटो के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए 1996 में एकत्र होकर कार्य करने के मुद्दे पर रूस एवं चीन में सहमति।

पाकिस्तान पर्यटकों को 2002 में भारत के तीन शहरों में घूमने की अनुमति।

सन 2004 में सुनामी लहरों के कारण इंडोनेशिया में मरने वालों की संख्या 60,000 पहुँची।

चीन ने वर्ष 2006 में राष्ट्रीय रक्षा पर श्वेत पत्र जारी किया।

पाकिस्तान में पेशावर के समीप 2012 में आतंकवादियों के हमले में 21 सुरक्षाकर्मी मारे गये।

29 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति

वोमेश चन्‍द्र बनर्जी, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष वोमेश चन्‍द्र बनर्जी का जन्म 1844 में हुआ।

प्रसिद्ध साहित्यकार गिरिधर शर्मा चतुर्वेदी का जन्म 1881 में हुआ।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष डब्ल्यू सी बनर्जी का जन्म 1884 में हुआ।

कन्नड़ भाषा के कवि व लेखक कुप्पाली वेंकटप्पा पुटप्पा का जन्म 1904 में हुआ।

प्रसिद्ध भारतीय फ़िल्म निर्देशक तथा ख्यातिप्राप्त धारावाहिक ‘रामायण’ के निर्माता रामानन्द सागर का जन्म 1917 में हुआ।

अमेरिकी लेखक विलियम गैडेस का जन्म 1922 में हुआ।

हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध अभिनेता राजेश खन्ना का जन्म 1942 में हुआ।

नेपाल के राजा और दक्षिण एशियाई नेता वीरेन्द्र वीर विक्रम शाह का जन्म 1944 में हुआ।

प्रसिद्ध आलोचक, प्रमुख मीडिया विश्लेषक, साहित्यकार, स्तंभकार और वरिष्ठ मीडिया समीक्षक सुधीश पचौरी का जन्म 1948 में हुआ।

29 दिसंबर को हुए निधन

राष्ट्रीय विचारधारा के समर्थक और यूनानी पद्धति के प्रसिद्ध चिकित्सक हकीम अजमल ख़ाँ का 1927 में निधन।

प्रसिद्ध शिक्षाशास्त्री, संगीतज्ञ एवं हिन्दुस्तानी शास्त्रीय गायक ओंकारनाथ ठाकुर का 1967 में निधन।

सोवियत संघ के पूर्व प्रधानमंत्री कोसिगिन 1980 में का देहान्त।

विश्व के पहले परमाणु बम बनाने वाले अमेरिकी वैज्ञानिक रेगर सक्रेबर का 1998 में निधन।

प्रसिद्ध चित्रकार मंजीत बाबा का 2008 में निधन हो गया।

 

Save the Children India, Best NGO to Support Child Rights, Best NGO in Lucknow, Skills Development NGO, Health NGO Lucknow, Education NGO Lucknow, NGO for Women Empowerment, NGO in India, Non Governmental Organisations, Non Profit Organisations, Best NGO in India

 


All Comments

Leave a Comment

विशिष्ट वक्तव्य 

विशिष्ट महानुभावों के वशिष्ट अवसरों पर राय

Facebook
Follow us on Twitter
Recommend us on Google Plus
Visit To Website