EMAIL

Call Now

ब्लॉग

महिला कबड्डी लीग के विजोताओं का राज्यपाल ने किया सम्मान
04-May-2018    |    Views : 000359

महिला कबड्डी लीग के विजोताओं का राज्यपाल ने किया सम्मान

LUCKNOW.   एक स्वस्थ प्रतिभागी स्वस्थ भावना से प्रतिस्पर्धा करके अपने जीवन में खुशियां ला सकता है।ग्रामीण क्षेत्रों की बालिकाओं की छिपी प्रतिभा को निखारने के लिए यह महिला कबड्डी लीग हमसे न लो पंगा का मंच काफी अच्छा साबित हो रहा है। देश, समाज और परिवार के लिए महिला सशक्तीकरण बहुत ही आवश्यक है।खेलकूद मानव जीवन को विकसित करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है।  प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने बृहस्पतिवार को बख्शी का तालाब स्थित एसआर कालेज में आयोजित महिला कबड्डी लीग हमसे न लो पंगा के विजेताओं एवं सहयोगियों के सम्मान समारोह में यह बात कहीं।

यह भी पढ़ेः- सभी सरकारी चिकित्सालयों में इसको लेकर अलर्ट जारी

विजेता टीम को दी ट्राफी

 राज्यपाल ने इस महिला कबड्डी लीग के सम्मान समारोह में महिला कबड्डी प्रतियोगिता जूनियर एवं सीनियर विजेता टीम को विनर ट्राफी देकर सम्मानित किया। महिला जूनियर टीम की विजेता कबड्डी क्लब दाभा सेमर, फैजाबाद की टीम रही तथा महिला सीनियर की विजेता लखनऊ सीनियर गर्ल्स टीम रही। इन सभी टीमों को विनर ट्राफी एवं प्रशस्तिपत्र देकर सम्मानित किया।

यह भी पढ़ेः- अपनी इस आदत को बदल डालें, दिमाग तेज होगा

स्मारिका का विमोचन

इस सम्मान समारोह में राज्यपाल ने महिला कबड्डी लीग के मैच में विशेष रूप से सहयोग करने वाले नन्दकिशोर मिश्रा, डॉ मधु पाठक, सत्या सिंह, आलमदार आब्दी, गणेश यादव, प्रहलाद सिंह, अभिजीत बिसेन, आभा सिंह, श्याम प्रताप सिंह, संदीप सिंह, अनिल द्विवेदी, डॉ संध्या शर्मा, ममता सिंह, विकास मिश्रा, ममता सिंह चौहान, एस. मलिक व सुधीर कुशवाहा सहित 25 लोगों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर राज्यपाल रामनाईक, एसआर कालेज के चेयरमैन पवन सिंह चौहान, नागेन्द्र बहादुर सिंह चौहान ने महिला कबड्डी लीग की स्मारिका का विमोचन भी किया।

यह भी पढ़ेः- आनलाइन पढ़ी जा सकेंगी कक्षा आठ तक की पुस्तकें

25 जिलों में हुए क्वार्टर फाइनल

 महिला कबड्डी लीग के संस्थापक अध्यक्ष नागेन्द्र बहादुर सिंह चौहान ने कहा कि हमने विगत वर्ष महिला कबड्डी प्रतियोगिता का सपना देखा था। उत्तर प्रदेश में पहली बार अंश बेलफेयर फाउंडेशन ने अन्य तमाम संस्थाओं के साथ मिलकर प्रदेश के 25 जिलों में क्वार्टर फाइनल करवाये। जिसके बाद 28, 29 और 30 अप्रैल को बाबू के.डी. सिंह स्टेडियम में सेमीफाइनल एवं फाइनल मैच हुए। जिसमें 30 जूनियर एवं सीनियर टीमों ने हिस्सा लिया। अब अगले साल इस प्रतियोगिता में यूपी के 50  जिलों को शामिल किया जायेगा।

यह भी पढ़ेः- नई रोशनी में महिलाओं को मिलेगा प्रशिक्षण

खेल एवं अध्ययन दोनों ही सम्पूर्ण विकास के लिए जरूरी

 इस अवसर पर एसआर कालेज के चेयरमैन पवन सिंह चौहान ने कहा कि खेल प्रतियोगिताओं से हमें अपने दृढ़ निश्चय कर सफलता के पथ पर आगे बढ़ने की प्रेरणा मिलती है। अन्ततः खेल एवं अध्ययन दोनों ही जीवन के सम्पूर्ण विकास के लिए अभिन्न अंग होने चाहिए।

 

Save the Children India, Best NGO to Support Child Rights, Best NGO in Lucknow, Skills Development NGO, Health NGO Lucknow, Education NGO Lucknow, NGO for Women Empowerment, NGO in India, Non Governmental Organisations, Non Profit Organisations, Best NGO in India

 


All Comments

Leave a Comment

विशिष्ट वक्तव्य 

विशिष्ट महानुभावों के वशिष्ट अवसरों पर राय

Facebook
Follow us on Twitter
Recommend us on Google Plus
Visit To Website