EMAIL

Call Now

ब्लॉग

महान क्रिकेट ने कमजोरी को बनाई अपनी ताकत
13-Dec-2018    |    Views : 000163

LUCKNOW. भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे कामयाब कप्तानों में से एक रहे पटौदी ने बेहद कम उम्र में एक आंख की रोशनी गंवा दी थी। लेकिन इस कमी को उन्होंने कभी अपने खेल पर हावी नहीं होने दिया। दुनिया जानती है कि वे कितने शानदार बल्लेबाज थे।

महान क्रिकेट ने कमजोरी को बनाई अपनी ताकत

LUCKNOW. भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे कामयाब कप्तानों में से एक रहे पटौदी ने बेहद कम उम्र में एक आंख की रोशनी गंवा दी थी। लेकिन इस कमी को उन्होंने कभी अपने खेल पर हावी नहीं होने दिया। दुनिया जानती है कि वे कितने शानदार बल्लेबाज थे। एक एक्सीडेंट के बाद पटौदी को हर चीज की डबल इमेज दिखने लगी, जिसके बाद लोगों को लगा कि उनका क्रिकेट करियर शुरू होने से पहले ही खत्म हो गया। लेकिन एक्सीडेंट के छह महीने बाद दिसंबर 1961 में उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया।

महज 21 साल की उम्र में भारतीय टीम की कप्तानी संभालने वाले पटौदी ने टीम का मनोबल बदल कर रख दिया था। उन्होंने ही पहली बार टीम इंडिया को यह समझाया कि सिर्फ डिफेंस ही नहीं, ऑफेंस भी क्रिकेट का नियम है। टाइगर की अगुवाई में ही टीम इंडिया ने पहली बार साल 1967 में न्‍यूजीलैंड को टेस्ट सीरीज में उसकी ही धरती पर हराया था।

इसके अलावा इतिहास में 13 दिसंबर को देश विदेश में बहुत कुछ हुआ,  जिसको जानकर हम अपने ज्ञान को बढ़ा सकते है।

 13 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

गुलाम वंश के शासक इल्तुतमिश ने 1232 में ग्वालियर पर कब्जा किया।

ऑस्ट्रिया के टायरॉल में 1916 में हिमस्खलन से 24 घंटे में 10,000 ऑस्ट्रियाई और इतालवी सैनिकों की मौत।

नीदरलैंड के हेग में 1920 में लीग ऑफ नेशनस का अंतरराष्ट्रीय न्यायालय स्थापित।

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय का 1921 में उद्घाटन ‘प्रिंस ऑफ वेल्स’ ने किया था।

चीन और जापान के बीच 1937 में हुए नानज़िंग के युद्ध में जापानियों की जीत हुई। इसके बाद लंबे समय तक नरसंहार और अत्याचार का दौर चला।

भारत और सोवियत संघ ने 1955 में पंचशील प्रकाशन को स्वीकार किया।

मंसूर अली ख़ान पटौदी ने 1961 में अपना टेस्ट मैच करियर दिल्ली में इंग्लैंड के खिलाफ शुरू किया था।

सन 1974 में माल्टा गणतंत्र बना।

पोलैंड में 1981 में सेना द्वारा सत्ता पर कब्ज़ा।

गृह मंत्री मुफ़्ती मोहम्मद सईद की बेटी को 1989 में आतंकवादियों के चंगुल से छुड़ाने के बदले पांच कश्मीरी आतंकवादियों को जेल से रिहा किया गया।

कोफी अन्नान 1996 में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव चुने गए।

महात्मा रामचन्द्र वीर को 1998 में कोलकाता के बड़ा बाज़ार लाइब्रेरी की ओर से “भाई हनुमान प्रसाद पोद्दार राष्ट्र सेवा” पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

दिल्ली स्थित भारतीय संसद पर 2001 में आतंकवादी हमला।

इस्रायल ने 2001 में यासिर अराफात से सम्पर्क तोड़े।

भूतपूर्व इराकी राष्ट्रपति सद्दाम हुसैन को 2003 में उनके गृह नगर टिगरीट के निकट गिरफ्तार कर लिया गया।

यूरोपीय संघ का 2002 में विस्तार किया गया। साइप्रस, चेक गणराज्य, एस्टोनिया, हंगरी,

लातविया, लिथुआनिया, पोलैंड, स्लोवाकिया और स्लोवेनिया इसमें शामिल किए गए।

इस्लामाबाद में भारत और पाकिस्तान के बीच 2004 में परमाणु और सर क्रीक पर वार्ता प्रारम्भ।

भूतपूर्व चिलि तानाशाह जनरल अगस्टो पिनोसे 2004 में अपहरण और नरसंहार के 9 आरोप लगने के बाद घर में नजरबंद कर दिए गए।

50वें सदस्य के रूप में 2006 में वियतनाम को शामिल करने हेतु विश्व व्यापार संगठन द्वारा अधिसूचना जारी।

श्रीलंका सेना व लिट्टेे के मध्य 2007 में हुए संघर्ष में 17 लिट्टे उग्रवादी मारे गये।

जम्मू-कश्मीर के पाँचवें चरण के लिए 2008 में 11 विधानसभा क्षेत्रों में 57% मतदान हुआ।

13 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति

हिन्दी में मनोवैज्ञानिक उपन्यासों के आरम्भकर्ता इलाचन्द्र जोशी का जन्म 1903 में हुआ।

भारत के प्रसिद्ध अर्थशास्त्री लक्ष्मी चंद्र जैन का जन्म 1925 में हुआ।

13 दिसंबर को हुए निधन

एक फ़ारसी विद्वान् लेखक, वैज्ञानिक, धर्मज्ञ तथा विचारक अलबेरूनी का निधन 1048 में हुआ।

हिन्दी फ़िल्मों की प्रसिद्ध भारतीय अभिनेत्री स्मिता पाटिल का निधन 1986 में हुआ।

 

 

Save the Children India, Best NGO to Support Child Rights, Best NGO in Lucknow, Skills Development NGO, Health NGO Lucknow, Education NGO Lucknow, NGO for Women Empowerment, NGO in India, Non Governmental Organisations, Non Profit Organisations, Best NGO in India

 


All Comments

Leave a Comment

विशिष्ट वक्तव्य 

विशिष्ट महानुभावों के वशिष्ट अवसरों पर राय

Facebook
Follow us on Twitter
Recommend us on Google Plus
Visit To Website