EMAIL

info@unitefoundation.in

Call Now

+91-7-376-376-376

ब्लॉग

राइट बंधुओं की कामयाबी ने मंगल ग्रह तक पहुंचाया
17-Dec-2018    |    Views : 000128

LUCKNOW. ऑरविल और विल्बर राइट बंधुओं की वजह से ही आज हम और आप विमान का सफर कर पा रहे हैं। यह उड़ान जो उस समय शुरू हुई थी आज जेट विमानों और अंतरिक्ष यानों तक होते हुए चंद्रमा और मंगल तक जा पहुंची है।

राइट बंधुओं की कामयाबी ने मंगल ग्रह तक पहुंचाया

LUCKNOW. ऑरविल और विल्बर राइट बंधुओं की वजह से ही आज हम और आप विमान का सफर कर पा रहे हैं। यह उड़ान जो उस समय शुरू हुई थी आज जेट विमानों और अंतरिक्ष यानों तक होते हुए चंद्रमा और मंगल तक जा पहुंची है।

राइट बंधुओं की यह कामयाबी दरअसल चार साल की कड़ी मेहनत और बार-बार नाकामी मिलने के बावजूद सपने को साकार करने के जज्बे का नतीजा थी। हालांकि अपने भाइयों की तरह वे कॉलेज नहीं गए लेकिन मशीनों से दोनों को खूब लगाव था। बचपन में उनके पिता ने उन्हें एक हेलीकॉप्टर सा खिलौना दिया था, जिसने दोनों भाइयों को असली का उड़न यंत्र बनाने के लिए प्रेरित किया। दोनों को मशीनी तकनीक की काफी अच्छी समझ थी जिससे उन्हें विमान के निर्माण में मदद मिली।

उन्होंने प्रिंटिंग प्रेसों, साइकिलों, मोटरों और दूसरी मशीनों पर लगातार काम करने के आधार पर पाया था। दोनों ने 1900 से 1903 तक लगातार ग्लाइडरों के साथ परीक्षण किया था लेकिन वे ग्लाइडर नहीं उड़ा पा रहे थे। आखिरकार एक साइकिल मैकेनिक चार्ली टेलर की मदद से राइट बंधु एक ऐसा इंजन बनाने में सफल रहे, जो 200 पौंड से कम वजन का भी था और 12 हॉर्स पावर का था।

राइट बंधुओं ने ग्लाइडरों के अनुभव के आधार पर उपयुक्त प्रोपेलर बनाने में सफलता हासिल की। उसके बाद उन्होंने अपने ग्लाइडर 'किटी हॉक' में यह इंजन और प्रोपेलर लगाकर विमान तैयार किया जिसने 17 दिसंबर 1903 को पहली उड़ान भरी। 12 सेकेंड की इस उड़ान ने 120 फीट की दूरी तय की और इतिहास रच दिया।

 इसके अलावा 17 दिसंबर के इतिहास में बहुत सी महत्वपूर्ण घटनाएँ घटी, बहुत से महान लोगो ने 17 दिसंबर के दिन जन्म लिया और साथ ही बहुत से महान व्यक्ति आज ही दिन इस दुनिया से चले गयें, आज हम उसी घटनाओं पर फिर से एक नजर डालेंगे।

17 दिसंबर की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

मंगोल सम्राट तैमूरलंग ने 1398 में दिल्ली पर कब्जा किया।

मुगल सम्राट जहांगीर की पत्नी नूरजहां बेगम का निधन 1645 में हुआ।

सिखों के प्रमुख बंदा बहादुर बैरागी ने 1715 में गुरुदासपुर में मुग़लों के सामने आत्मसमर्पण किया।

फ्रांस ने 1777 में अमेरिकी स्वतंत्रता को मान्यता दी।

मराठों और पुर्तग़ालियों के बीच लंबे संघर्ष के बाद 1779 में मराठा सरकार ने मित्रता सुनिश्चित करने के लिए इस प्रदेश के कुछ गांवों का 12,000 रुपये का राजस्व क्षतिपूर्ति के तौर पर पुर्तग़ालियों को सौंप दिया था।

फ़्रांस के तानाशाह नेपोलियन बोनापार्ट ने 1807 में मीलान का ऐतिहासिक आदेश जारी किया।

राइट बंधुओं ने 1903 में ‘द फ्लायर’ नामक विमान पहली बार उड़ाया था. 12 सेकेंड की इस उड़ान ने दुनिया में क्रांति ला दी थी.

उग्येन वांगचुक 1907 में भूटान के पहले वंशानुगत राजा बने।

पोलैंड के लिमानोव में आस्ट्रिया की सेना ने 1914 में रूसी सेना को पराजित किया।

तुर्की अधिकारियों ने 1914 में यहूदियों को तेल अवीव से बाहर खदेड़ दिया गया।

तत्कालीन सोवियत संघ और तुर्की ने 1925 में एक दूसरे पर हमला न करने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किये।

आस्ट्रेलिया के महान् बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन ने 1927 में अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपने पहले ही मैच में शानदार 118 रनों की पारी खेली।

भारत के एक प्रमुख क्रान्तिकारी राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी को 1927 में निर्धारित तिथि से 2 दिन पूर्व ब्रिटिश सरकार ने गोण्डा जेल में फाँसी पर लटका कर मार दिया।

लाला लाजपात राय की हत्या का बदला लेने के लिए भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव ने 1928 में उन पर लाठी चार्ज करने वाले सांडर्स की हत्या कर दी.

भारत के इतिहास में काफ़ी महत्वपूर्ण है। इस दिन प्रोफेसर प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस का सपना साकार हुआ और कोलकाता में ‘भारतीय सांख्यिकी संस्थान’ की 1931 में स्थापना हुई।

भारत के दिग्गज क्रिकेटर लाला अमरनाथ ने 1933 में अपने पदार्पण टेस्ट मैच में ही 118 रनों की बेहतरीन पारी खेली।

जर्मन रसायनशास्त्री ओटो हान ने 1938 में यूरेनियम के नाभिकीय विखंडन की खोज की।

महात्मा गांधी ने 1940 में व्यक्तिगत सत्याग्रह आंदोलन स्थगित किया।

बर्मा (अब म्यांमार) ने 1949 में साम्यवादी चीन को मान्यता दी।

सन 1971 में भारत-पाक युद्ध समाप्त।

ज़ायोनी शासन ने 1992 में अपने सीमा सुरक्षा बल के एक जवान की हत्या के बहाने फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास के 415 सदस्यों को देश निकाला दे दिया।

सन 1996 में नेशनल फुटबॉल लीग का शुभारंभ हुआ।

अमेरिकी और ब्रिटिश बम वर्षकों ने 1998 में ‘आपरेशन डेजर्ट फ़ाक्स’ के तहत इराक पर भारी बमबारी की।

भारत और पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष मुख्यालयों में हॉटलाइन पुन: शुरू, नेशनलिस्ट सर्व

डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता मिरको सरोविक ने 2000 में बोस्निया में राष्ट्रपति पद की शपथ ली।

तुर्की ने 2002 में कश्मीर मुद्दे पर भारत का समर्थन किया।

भूटान के राजा जिग सिगमे वांचुक को 2005 में सत्ता से हटाया गया।

शीला दीक्षित ने 2008 में दिल्ली की मुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

केन्द्र सरकार ने 2008 में शासन बलों में पदोन्नति के लिए नई पदोन्नति नीति की घोषणा की।

17 दिसंबर को जन्मे व्यक्ति

बादशाह अकबर के दरबार के प्रसिद्ध कवि रहीम का जन्म 1556 में हुआ.

क्रांतिकारी लेखक, इतिहासकार तथा पत्रकार सखाराम गणेश देउसकर का जन्म 1869 में हुआ.

भारत के पहले मुस्लिम मुख्य न्यायाधीश, वे भारत के प्रथम कार्यवाहक राष्ट्रपति मुहम्मद

हिदायतुल्लाह का जन्म 1905 में हुआ.

अमेरिकी इंजीनियर और शहरी योजनाकार एलन वूरीज़ का जन्म 1922 में हुआ.

भारतीय फ़िल्म अभिनेता जॉन अब्राहम का जन्म 1972 में हुआ.

लेखक, विचारक ललित शुक्ला का जन्म 1994 में हुआ.

17 दिसंबर को हुए निधन

मुग़ल सम्राट जहांगीर की पत्नी नूरजहां का निधन 1645 में हुआ.

भारत के अमर शहीद प्रसिद्ध क्रांतिकारियों में से एक राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी का निधन 1927 में हुआ.

प्रसिद्ध भारतीय स्वतंत्रता सेनानी, गाँधीवादी और पत्रकार भोगराजू पट्टाभि सीतारामैया का निधन 1959 में हुआ.

 

 

Save the Children India, Best NGO to Support Child Rights, Best NGO in Lucknow, Skills Development NGO, Health NGO Lucknow, Education NGO Lucknow, NGO for Women Empowerment, NGO in India, Non Governmental Organisations, Non Profit Organisations, Best NGO in India

 


All Comments

Leave a Comment

विशिष्ट वक्तव्य 

विशिष्ट महानुभावों के वशिष्ट अवसरों पर राय

Facebook
Follow us on Twitter
Recommend us on Google Plus
Visit To Website